Friday, October 7, 2022

Used Maruti Swift खरीदने से पहले जान लें फायदे नुकसान, बच सकते हैं लाखों!

मारुति स्विफ्ट को 1.3-लीटर डीजल इंजन के साथ पेश किया जाता है, जो अपने सेगमेंट में अच्छे डीजल इंजनों में से एक थी। हालांकि, अब यह कार केवल पेट्रोल मॉडल के साथ उपलब्ध है, लेकिन आप अभी भी यूज्ड कार बाजार में डीजल मॉडल ले सकते हैं।

Maruti Suzuki Swift एक ऐसी कार है, जिसके पास हजारों लोगों का दिल है। इस कार को सबसे पहले 2005 में लॉन्च किया गया था, और देखते ही देखते इस कॉम्पैक्ट हैच ने भारतीय बाजार में 17 साल बिताए हैं। यह देश में आज भी सबसे ज्यादा बिकने वाली कारों में से एक है, जिसकी हर महीने औसतन 15,000 से अधिक यूनिट्स की बिक्री होती है। न सिर्फ नई कार खरीदने वाले लोगों के लिए बल्कि यूज्ड कार स्पेस में भी स्विफ्ट बेहद लोकप्रिय है, और अगर आप इसे खरीदने के लिए रिसर्च करेंगे तो शायद हजारों लिस्टिंग ऑनलाइन मिल भी जाएंगी। इसलिए, यदि आप भी एक पुरानी मारुति सुजुकी स्विफ्ट लेने की योजना बना रहे हैं, तो यहां हम आपके लिए लेकर आएं हैं, इस कार से जुड़े कुछ फायदे और नुकसान। जिन पर आपको स्विफ्ट खरीदने से पहले जरूर विचार करना चाहिए।

यह भी पढ़ें :- भूल जाइए Tvs Apache! बस खर्च करने होंगे 20 हजार रुपये ज्यादा और आ जाएगी BMW G310RR

Maruti Suzuki Swift

पुरानी मारुति सुजुकी स्विफ्ट खरीदने के फायदे

सबसे पहले जानते हैं, इस कार को खरीदने के फायदे। स्विफ्ट काफी सक्षम कार है। यह कॉम्पैक्ट, फन-टू-ड्राइव है, और कार के मिलने वाले कुछ मॉडल कंफर्ट राइडिंग के साथ आते हैं, और मारुति के मजबूत सर्विस नेटवर्क के चलते इसके पार्ट के साथ भी लंबी अवधि के लिए कोई समस्या नहीं है। मारुति स्विफ्ट को 1.3-लीटर डीजल इंजन के साथ पेश किया जाता है, जो अपने सेगमेंट में अच्छे डीजल इंजनों में से एक थी। हालांकि, अब यह कार केवल पेट्रोल मॉडल के साथ उपलब्ध है, लेकिन आप अभी भी यूज्ड कार बाजार में डीजल मॉडल ले सकते हैं। मारुति सुजुकी की कारों की कीमत अच्छी बनी रहती है, और अगर आप इस कार को खरीदने के 3-4 साल बाद बेचने का फैसला करते हैं, तो भी आपको अच्छा रिटर्न मिलना तय है।

यह भी पढ़ें :- Diesel cars Ban : वाहन मालिक सावधान! दिल्ली में बैन हो सकती हैं BS6 Diesel कारें, 9 लाख वाहनों पर गिरेगी गाज!

Maruti Suzuki Swift

नुकसान भी जानना जरूरी

मारुति सुजुकी स्विफ्ट में प्रोजेक्टर हेडलैंप, एलईडी डीआरएल, स्पोर्टी अलॉय, ऐप्पल कारप्ले और एंड्रॉइड ऑटो, और ऑटो क्लाइमेट कंट्रोल जैसे फीचर्स मिलते हैं, जिन्हें थर्ड-जेन कार के साथ पेश किया गया था। यानी इस्तेमाल किया हुआ थर्ड-जेन भी सस्ता नहीं होगा। क्योंकि इसमें फीचर्स की भी कोई कमी नहीं है। सीधे शब्दों में कहें तो 3-4 साल पुरानी एक नई स्विफ्ट की कीमत आपको 6 लाख से 8 लाख के बीच में बैठेगी। स्विफ्ट को ग्लोबल एनसीएपी से कभी भी खास सुरक्षा रेटिंग नहीं मिली है। न्यू-जेन मॉडल को भी सिर्फ 2-स्टार रेटिंग प्राप्त है, वहीं पिछले-जेन मॉडल को जीरो-स्टार रेटिंग प्राप्त हुई है।

Maruti Suzuki Swift

नोट :- नई स्विफ्ट निश्चित रूप से प्रीमियम दिखती है, हालांकि, पुराना मॉडल दिखने और क्वालिटी के मामले में काफी पुराना था।

यह भी पढ़ें :- Hyundai ने बढ़ाई Tesla की मुसीबत! पेश की सबसे ज्यादा रेंज देने वाली इलेक्ट्रिक कार IONIQ 6

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

4 × four =

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments