Tuesday, September 27, 2022

इलेक्ट्रिक स्कूटर्स में लगी आग की घटनाओं से डरी कंपनी! टाल दी अपने स्कूटर की डिलीवरी

सिंपल एनर्जी के सीईओ के अनुसार कंपनी को भारी बुकिंग मिली है, और वह पिछली योजनाओं के अनुसार सिटी वाइज डिलीवरी के बजाय पूरे भारत में डिलीवरी शुरू करना चाहती है। इसलिए, यह सुनिश्चित करने की आवश्यकता है कि डिलीवरी शुरू होने से पहले मांग और आपूर्ति में संतुलन स्थिर हो।

इलेक्ट्रिक दोपहिया वाहनों की दौड़ में अपने कदम बढ़ा रही सिंपल एनर्जी ने पिछले साल 15 अगस्त को अपने इलेक्ट्रिक स्कूटर सिंपल वन को पेश किया था। इस स्कूटर के साथ कंपनी ने ईवी स्पेस में अपनी शुरुआत की। स्कूटर को पेश किए लगभग नौ महीने बीते चुके हैं, और बेंगलुरु स्थित ईवी स्टार्टअप ने अभी तक अपने ग्राहक को एक भी स्कूटर की डिलीवरी नहीं दी है, और ऐसा लगता है कि इंतजार और भी लंबा चलने वाला है। दरससल, कंपनी ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल के माध्यम से सिंपल वन ई-स्कूटर की डिलीवरी पर अपडेट दिया है, जिसमें कहा गया कि डिलीवरी को स्थगित कर दिया गया है क्योंकि इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए अपडेटेड निर्देश जल्द ही सरकार द्वारा जारी किए जाने की उम्मीद है। इतना ही नहीं सिंपल वन इलेक्ट्रिक स्कूटर की डिलीवरी में देरी के साथ ट्वीट के माध्यम से बताया या कि इस प्रीमियम इलेक्ट्रिक स्कूटर की टेस्ट राइड इस साल जुलाई में शुरू होगी और टेस्ट राइड की सटीक तारीख का खुलासा 30 मई को की जाएगी।

लगातार आ रही आग की घटनाओं का असर

इस इलेक्ट्रिक स्कूटर की डिलीवरी में हुई देरी इस बात का संकेत हैं, कि लगातार लग रही इलेक्ट्रिक दोपहिया वाहनों में आग से कंपनी घबरा गई है, आप परिचित हैं, कि हाल के महीनों में देश भर में इलेक्ट्रिक स्कूटर में लगी आग की घटनाएं लगातार चर्चा में है, जिसने न केवल आम जनता बल्कि सरकार का भी ध्यान आकर्षित किया है। वहीं इस तरह की घटनाओं ने सरकार को इलेक्ट्रिक दोपहिया वाहनों की सुरक्षा को पूरी गंभीरता से देखने और एक जांच करने के लिए मजबूर कर दिया है। इससे पहले अप्रैल में केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने कहा था, कि लापरवाही बरतने वाले ईवी निर्माताओं के खिलाफ उचित कार्रवाई की जाएगी। वहीं ईवी में लगने वाली आग की जांच कर रही सेंटर फॉर फायर एक्सप्लोसिव एंड एनवायरनमेंट सेफ्टी (सीएफईईएस) ने जाचं के पाया कि ज्यादात्तर आग की घटनाएं स्कूटर की बैटरी में शार्ट सर्किट होने से हुई हैं। बताते चलें, कि हाल की रिपोर्टों पर गौर करते हुए Central Consumer Protection Authority (CCPA) जो केंद्रीय उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय की देखरेख में आता है, ने प्योर ईवी और बूम मोटर्स को उनके उत्पादों के कारण ग्राहकों की जान जाने और उन्हें गंभीर चोट लगने के संबंध में नोटिस भेजा है।

डिलीवरी में देरी की बताई ये वजह

ईवी स्कूटर्स पर सरकार गंभीर है, और जल्द ही कुछ नीतिगत बदलाव ला सकती है, यही वजह है कि सिंपल एनर्जी ने अपने ई-स्कूटर के उत्पादन के साथ-साथ डिलीवरी में भी देरी की है। सिंपल एनर्जी के सीईओ के अनुसार कंपनी को भारी बुकिंग मिली है, और वह पिछली योजनाओं के अनुसार सिटी वाइज डिलीवरी के बजाय पूरे भारत में डिलीवरी शुरू करना चाहती है। इसलिए, यह सुनिश्चित करने की आवश्यकता है कि डिलीवरी शुरू होने से पहले मांग और आपूर्ति में संतुलन स्थिर हो। बता दें, लंबे इंतजार से तंग आकर कुछ ग्राहकों ने तो अपनी बुकिंग भी रद्द कर दी है और अब वे 1,947 रुपये के पूरे रिफंड का इंतजार कर रहे हैं। सिंपल वन की बात करें तो इस इलेक्ट्रिक स्कूटर की कीमत 1.10 लाख रुपये (एक्स-शोरूम बेंगलुरु, नवीनतम FAME-II सब्सिडी सहित) रखी गई है, और यह एक ही वर्जन में ब्रिकी पर उपलब्ध होगा।

सबसे ज्यादा रेंज के साथ प्रीमियम स्कूटर

सिंपल एनर्जी का दावा है कि यह स्कूटर 72 एनएम का टार्क पैदा कर सकती है। वहीं कंपनी इसकी पावर भी सेगमेंट में सबसे ज्यादा होने का दावा कर रही है। इस स्कूटर को 4.8 kWh बैटरी पैक दिया गया है, जिसकी बदौलत यह ईको मोड में 200 किमी से अधिक की ड्राइविंग रेंज का दावा करता है। कंपनी के मुताबिक यह स्कूटर 0-40 किमी प्रति घंटे की रफ्तार 2.85 सेकेंड में पकड़ लेता है। वहीं इसकी टॉप स्पीड 105 किमी प्रति घंटे तक सीमित है। स्कूटर में बूट स्पेस 30 लीटर है, और इसमें 8.5 kW का मोटर मिलता है। अगरर आप भी इस स्कूटर को बुक करने के इच्छुक हैं, तो 1,947 रुपये की बुकिंग कीमत पर simpleenergy.in वेबसाइट पर बुक कर सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

9 − 2 =

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments