Thursday, October 6, 2022

Honda Active के मालिक से पेट्रोल पंप ने मांगे ईंधन भरने के 55,000 रुपये, हुआ बड़ा घपला

एक्टिवा के मालिक ने पेमेंट के लिए गूगल पे (Google Pay) का इस्तेमाल किया। लेकिन एक बार भुगतान करने के बाद वह अपने खाते से डेबिट की गई राशि को देखकर हैरान रह गया। यह राशि लगभग 550 रुपये होनी चाहिए थी।

भारतीय लोग आज डिजिटल भुगतान करना ज्यादा पसंद करते हैं, लेकिन इसके हजारों फायदे के साथ कुछ नुकसान भी हैं। कई बार पेमेंट प्रोसेस करते हुए आपका पैसा बीच में अटक जाता है, क्योंकि, कई जगहों पर नेटवर्क की समस्या हो जाती है, तो कभी बैंक सर्वर की दिक्कत।

इसका एक ताजा उदाहरण हमारे पास है, जिसमें होंडा एक्टिवा के एक मालिक ने 550 रुपये के बजाय 55,000 रुपये का पेमेंट कर दिया। यह घटना महाराष्ट्र के ठाणे में एक शेल ईंधन पंप पर हुई थी। शुक्र है कि मामला सही ढंग से सुलझ गया और मालिक को पेट्रोल पंप से उसी दिन अपना पैसा वापस मिल गया।

Honda Activa
Jawa Yezdi All Bikes Price List

दरअसल, अपनी होंडा एक्टिवा का फ्यूल टैंक भरने के बाद मालिक ने फ्यूल पंप अटेंडेंट द्वारा दिखाए गए क्यूआर कोड (QR Code) को स्कैन करके भुगतान किया। एक्टिवा के मालिक ने पेमेंट के लिए गूगल पे (Google Pay) का इस्तेमाल किया। लेकिन एक बार भुगतान करने के बाद वह अपने खाते से डेबिट की गई राशि को देखकर हैरान रह गया। यह राशि लगभग 550 रुपये होनी चाहिए थी। लेकिन इसके बजाय पेट्रोल पंच पर मौजूदा कर्मचारी ने गलती से 55,000 रुपये के लिए क्यूआर कोड जेनरेट कर दिया।

यह भी पढ़ें : Royal Enfied जैसी बाइक्स को टक्क्कर देने आ रही है यह धांसू मोटरसाइकिल BSA, लॉन्च पर आया अपडेट

जाहिर है, कि पेट्रोल पंप पर प्रतिदिन सैकड़ों भुगतान होते हैं, और ज्यादात्तर ईंधन स्टेशनों पर राशि को हैंडहेल्ड पीओएस (POS) मशीन पर मैन्युअल रूप से दर्ज करना पड़ता है। चूंकि लेन देन की संख्या काफी अधिक है, इसलिए व्यक्तिगत त्रुटि का जोखिम बना रहता है। खैर, यहां पेट्रोल पर पेमेंट लेने वाला कर्मचारी अभी भी परेशानी में है, क्योंकि उसे यह भी साबित करना है, कि उसकी मंशा ज्यादा पेमेंट लेने कि नहीं है।

यह भी पढ़ें : Ola Electric के सीईओ Bhavish को Twitter पर लोगों ने किया ट्रोल, बोले एक्सेसरीज़ के रूप में fire extinguisher भेज दो

Honda Activa

पीओएस मशीन पर गलत राशि दर्ज करने के कई कारएा हो सकते हैं, वहीं भुगतान करने के लिए क्यूआर कोड प्रदर्शित करने वाली नई मशीनें पुराने मॉडल्स की तुलना में ज्यादा बेहतर हैं। पुरानी पीढ़ी की पीओएस मशीनों की बटन कुंजियों की तुलना में नई पीओएस मशीनें कैपेसिटिव टचस्क्रीन का उपयोग करती हैं।

फिलहाल, यह स्पष्ट नहीं है कि वास्तव में इस त्रुटि का कारण क्या है। चूंकि नई पीओएस मशीनें स्मार्टफोन जैसी स्पष्टता प्रदान करती हैं, इसलिए इस घटना को आकस्मिक त्रुटि के रूप में टैग करना मुश्किल है। अपनी ओर से उपयोगकर्ता भुगतान करने से पहले पीओएस मशीन स्क्रीन पर नजर रखकर ऐसी घटनाओं से बच सकते हैं।

यह भी पढ़ें :- Maruti Jimny 5-Door टेस्टिंग पर आई नजर, अगले साल Auto Expo में होगी लॉन्च

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

3 × two =

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments