Friday, October 7, 2022

Mahindra Scorpio 2022: महिंद्रा ने जारी किया इस पावरफुल एसयूवी का टीजर, जबरदस्त होंगे फीचर्स, पढ़ें 20 सालों का कैसे तय किया सफर?

कंपनी की अधिकारिक वेबसाइट के अनुसार 2002 में स्कॉर्पियो को अर्बन इंडिया की पहली एसयूवी के रूप में लॉन्च किया गया था। यह कार प्रत्येक रास्तों पर चलने में आरामदायक थी, इसे लोगों ने न सिर्फ शहर की चिकनी सड़कों पर बल्कि कच्चे ग्रामीण रास्तों पर भी खूब चलाया। प्रोजेक्ट स्कॉर्पियो को भारत और यूके में डिज़ाइन किया गया।

देश की दिग्गज कार मेकर कंपनी महिंद्र इन दिनों खूब जोर शोर से नई स्कोर्पियो का प्रचार कर रही है, कंपनी ने अभी तक कार की लांचिंग पर कोई खुलासा नहीं किया है, लेकिन धीरे धीरे टीजर जारी कर लोगों के बीच हलचल जरूर पैदा कर रही है। हाल ही में कंपनी ने नई स्कोर्पियो का एक टीजर सोशल मीडिया पर पोस्ट किया। नए टीज़र में हमें नई एसयूवी की पहली दिखाई देती है, जिसे कार निर्माता जून में लॉन्च करने की तैयारी कर रही है। इसमें XUV700 जैसी ग्रिल को वर्टिकल क्रोम स्लैट्स के साथ देखा जा सकता हैं। वहीं मॉडल में डुअल-बैरल एलईडी प्रोजेक्टर हेडलाइट सेटअप और एलईडी फॉग लैंप दिखाए गए थे। फ्रंट बंपर के निचले हिस्से में हनीकॉम्ब पैटर्न और सी-शेप्ड एलईडी डीआरएल भी देखे जा सकते हैं, और नई स्कॉर्पियो के डुअल-टोन अलॉय व्हील भी सामने आएं हैं। खैर, महिंद्रा ने स्कोर्पियो के फ्रंट लुक की पूरी झलक एक टीजर में समेट दी है।

फ्रंट लुक से उठा पर्दा

हालांकि वीडियो एसयूवी के टेललाइट्स या इसके इंटीरियर के किसी भी हिस्से का खुलासा नहीं करती है, नई स्कॉर्पियो के कई स्पाई शॉट्स से पता चलता है, इस नए-जेन मॉडल को 6 और 7-सीटर कॉन्फ़िगरेशन में एक काले और भूरे रंग की थीम के साथ पेश किया जा सकता है। बतौर फीचर्स कंपनी 2022 स्कॉर्पियो को सिंगल-पैन सनरूफ, 8-इंच का टचस्क्रीन सिस्टम, वायरलेस फोन चार्जर, XUV700 जैसे स्टीयरिंग व्हील और रूफ-माउंटेड स्पीकर से लैस करेगी। वहीं बतौर सुरक्षा इसमें टायर प्रेशर मॉनिटर, मल्टीपल एयरबैग, 360-डिग्री कैमरा और इलेक्ट्रॉनिक स्टेबिलिटी कंट्रोल भी दिए जाएंगे। कीमत पर फिलहाल कोई भी जानकारी देना जल्दबाजी होगी, लेकिन हमारा मानना है कि महिंद्रा नई एसयूवी की कीमत 10 लाख रुपये (एक्स-शोरूम) से शुरू कर सकती है, जो किआ सेल्टोस, एमजी एस्टर, फॉक्सवैगन ताइगुन, हुंडई क्रेटा और स्कोडा कुशाक जैसी कॉम्पैक्ट एसयूवी के लिए एक मजबूत विकल्प बनी रहेगी।

बेस वैरिएंट में मिलेगा टोटा इंजन

इंजन विकल्पो की बात करें तो नई स्कॉर्पियो में थार और XUV700 का 2.2-लीटर डीजल इंजन दिया जाएगा। इसका बेस-स्पेक वैरिएंट हाल ही में टेस्टिंग पर देखा गया था, और इसमें 130PS की पावर के साथ डीजल इंजन मिलने की संभावना है। जिसे देख्ककर यह अंदाजा लगाया जा सकता है, कि इस SUV के टॉप ट्रिम्स ज्यादा पावरफुल होंगे। Mahindra इस SUV को 2-लीटर टर्बो-पेट्रोल इंजन के साथ 150PS से 200PS के बीच पावर आउटपुट के साथ पेश करेगी। दोनों इंजन मैनुअल और ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन विकल्पों से लैस होंगे। वहीं कंपनी FWD और AWD ड्राइवट्रेन दोनों के साथ न्यू-जेन स्कॉर्पियो की पेशकश भी कर सकती है। हालांकि इस बात की अभी पुष्टि नहीं हो पाई है। टीज़र में इतना तो साफ है, कि महिंद्रा स्कॉर्पियो एक डी-सेगमेंट एसयूवी होगी, जिसका अर्थ है कि यह 4.4 मीटर लंबी स्कॉर्पियो की जगह ले रही है। मौजूदा मॉडल से इसकी लंबाई 200 से 300 मिमी ज्यादा हो सकती है, क्योंकि कंपनी इसका प्रचार ‘एसयूवी के बिग डैडी’ के रूप में कर रही है।

कब शुरू हुआ सकोर्पियो का सफर

1990 के दशक के मध्य से पहले महिंद्रा केवल वाहनों को असेंबल करती थी। कौन से वाहन? आप पूछ सकते हैं। खैर, प्रसिद्ध Willys जीप और इसके कुछ अलग वर्जन। बाद में 1996 में कंपनी ने अपने स्वयं के एसयूवी का उत्पादन करके अगले स्तर तक बढ़ने का फैसला किया। यह वास्तव में एक अच्छी योजना थी, लेकिन एक पकड़ थी, कंपनी में अब तक कोई भी वाहन नहीं बनाया था। क्योंकि ये सिर्फ वााहनों को असेंबल करने में माहिर थी। इस तरह 2002 में प्रतिष्ठित Mahindra Scorpio को बनाने में 4 साल लगे। यह किसी भारतीय निर्माता की पहली SUV थी। कंपनी की अधिकारिक वेबसाइट के अनुसार 2002 में स्कॉर्पियो को अर्बन इंडिया की पहली एसयूवी के रूप में लॉन्च किया गया था। यह कार प्रत्येक रास्तों पर चलने में आरामदायक थी, इसे लोगों ने न सिर्फ शहर की चिकनी सड़कों पर बल्कि कच्चे ग्रामीण रास्तों पर भी खूब चलाया। प्रोजेक्ट स्कॉर्पियो को भारत और यूके में डिज़ाइन किया गया। जर्मनी और ऑस्ट्रिया में इंजीनियरों ने अपना करतब दिखाया और इटली में बनी सीटें व स्वीडन में पैनल और कोरिया में बनी बॉडी से तैयार हुई पहली स्कोर्पियो। 20 जून 2002 महिंद्रा एंड महिंद्रा एक योद्धा एसयूवी ‘स्कॉर्पियो’ के जन्म से वास्तव में खुश थी। तब किसी को नहीं पता था कि ये SUV भारतीय ऑटोमोटिव मार्केट में क्या कर सकती है। सबसे पहले स्कॉर्पियो में एक बड़ा 2.6-लीटर टर्बो डीजल इंजन दिया गया था, जो 116.6 बीएचपी की पावर और लगभग 200 एनएम का पीक टॉर्क जेनरेट करता है। इसके साथ ही इस कार को 2-लीटर रेनॉल्ट के स्रोत वाले इंजन के साथ भी पेश किया गया था। स्कोर्पियो को ऊबड़-खाबड़ दिखने वाले डिजाइन के साथ बनाया गया था।, और कार ने वही किया जिसके लिए इसे डिज़ाइन किया गया था आज स्कोर्पियो महिंद्रा की नई अपनी अलग पहचान बना चुकी है। 20 साल बाद भी इसका क्रेज लोगों के सिर चढ़ कर बोलता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

3 × 5 =

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments